Month: May 2020

पोषण ( Nutrition )

पोषण क्या होता है ?हिंदी में ( What is Nutrition ? in Hindi )

पोषण क्या है ? What is Nutrition ? in Hindi.   पोषण को समझने के लिए हमें पहले ये जानना होगा कि जब हम दौड़ते हैं या किसी काम को करते हैं तो हम ऊर्जा का उपयोग करते हैं। हमारे क्रम की स्थिति के अनुरक्षण करने के लिए ऊर्जा की आवश्यकता होती है। शरीर में …

पोषण क्या होता है ?हिंदी में ( What is Nutrition ? in Hindi ) Read More »

रासायनिक समीकरण संतुलित करना –

किसी भी रासायनिक अभिक्रिया के उत्पाद तत्वों का कुल द्रव्यमान अभिकारक तत्वों के कुल द्रव्यमान के बराबर होता है। रासायनिक अभिक्रिया के पहले तथा उसके पश्चात् प्रत्येक तत्व के परमाणुओं की संख्या समान रहती है।     अब हम रासायनिक समीकरण को संतुलित करने का प्रयास करते हैं। Fe + H2O   ⇾  Fe3O4 + H2 …

रासायनिक समीकरण संतुलित करना – Read More »

मानव रोग एवं प्रभावित अंग

मानव रोग एवं प्रभावित अंग

    क्र.      रोगों के नाम                प्रभावित अंग निमोनिया                              फेफड़ा टिटेनस                                  तंत्रिका तंत्र टाइफाइड                                आंत कुष्ठ रोग                                त्वचा, तंत्रिकाएं …

मानव रोग एवं प्रभावित अंग Read More »

विषाणु (वायरस) जनित मानव रोग

क्रमांक रोग का नाम विषाणु का नाम 1. एड्स एच० आई० वी० 2. रेबीज रैब्डोवायरस 3. मम्स मम्स वायरस 4. हरपीस हरपीस वायरस 5. डेंगू बुखार आरबो वायरस 6. पोलियो मेलाइटिस एंटीरो वायरस 7. वायरल एन्सिफेलाइटिस आरबो वायरस 8. चेचक वैरिओला वायरस 9. चिकेन पॉक्स वैरिसेला वायरस 10. सर्दी-जुकाम राइनो वायरस 11. एन्फ्लूएंजा / फ्लू …

विषाणु (वायरस) जनित मानव रोग Read More »

जीवाणु जनित मानव रोग –

जीवाणु क्रमांक रोग का नाम जीवाणु का नाम 1. टिटेनस क्लोस्ट्रीडियम टिटैनी 2. निमोनिया डिप्लोकोकस न्यूमोनी 3. कुष्ठ माइक्रोबैक्टीरियम लेप्री 4. क्षय रोग माइक्रोबैक्टीरियम ट्यूबरकुलोसिस 5. हैजा विब्रियो कोलेरी 6. टाइफाइड सालमोनेला टाइफोसा 7. डिप्थीरिया कोरीनीबैक्टीरियम डिप्थेरी 8. प्लेग पॉसट्यूरेला पेस्टिस 9. मेनिनजाइटिस नीसेरिया मेनिनजाइटिस 10. सिफिलिस ट्रेपोनेमा पॉलीडम 11. काली खाँसी हमोफिलिस परटूसिस 12. …

जीवाणु जनित मानव रोग – Read More »

प्रमुख विटामिन और उनके कमी कमी से होने वाले रोग

विटामिन रोग स्त्रोत रासायनिक नाम और अणु सूत्र विटामिन  A या A1 रतौंधी, संक्रमण के प्रति प्रतिरोध काम हो जाना मछली का यकृत, मांस, अंडे, दूध, मक्खन, पालक, पपीता, गाजर इत्यादि। रेटिनॉल या जीरोफ्थॉल C20H30O विटामिन  B1 बेरी-बेरी चावल की छीलन, यीस्ट, गेहूं के छिलके अंडे आदि। थायमीन या ऐन्यूरिन C12H18N4Cl2OS विटामिन  B2 किलोसिस  चावल …

प्रमुख विटामिन और उनके कमी कमी से होने वाले रोग Read More »

रासायनिक समीकरण क्या है ? उदाहरण सहित समझाइये।

रासायनिक समीकरण – जब भी कोई रासायनिक अभिक्रिया होती है तो उस अभिक्रिया का विवरण वाक्यों के रूप में लिखना बहुत लम्बा हो जाता है , इसलिए उस अभिक्रिया को शब्द-समीकरण के रूप में लिखा जाता है जिसे रासायनिक समीकरण कहते हैं। जैसे – जब ऑक्सीजन की उपस्थिति में मैग्निसियम रिबन को जलाया जाता है …

रासायनिक समीकरण क्या है ? उदाहरण सहित समझाइये। Read More »

विषाणु (Virus) क्या होता ? कोरोना वायरस क्या है और ये इतना घातक क्यों है ?

                  विषाणु –                                       विषाणु एक अतिसूक्ष्म और अकोशिकीय जीवधारी है जिसे हम नंगी आँखों से नहीं देख सकते। विषाणु केवल जीवित कोशिका में ही वृद्धि कर सकते हैं। ये प्रोटीन और नाभिकीय …

विषाणु (Virus) क्या होता ? कोरोना वायरस क्या है और ये इतना घातक क्यों है ? Read More »

कुछ अंग्रेजी के महत्वपूर्ण शब्दों के फूल फॉर्म –

A.D. – Anno Domini A.B.C. – Atomic, Biological and Chemical Warfare A.C.F. – Asian Cricket Foundation A.I.R. – All India Radio A.I.D. – Agency for International Development A.I.I.M.S. – All India Institute of Medical Sciences A.I.D.S. -Acquired Immune Deficiency Syndrome B.E. – Bachelor of Engineering B.A.R.C. – Bhabha Atomic Research Centre B.C. – Before Christ …

कुछ अंग्रेजी के महत्वपूर्ण शब्दों के फूल फॉर्म – Read More »

आइये ” सिंधु घाटी की सभ्यता ” के बारे में कुछ रोचक तथ्यों को जानते हैं।

➡️ सिंधु घाटी सभ्यता की खोज ( 1921 ई० में ) ” रायबहादुर दयाराम साहनी ‘‘ ने की थी। ➡️ सिंधु सभ्यता की तिथि 2400 ईसा पूर्व से 1700 ईसा पूर्व ( लगभग ) तक मानी गयी है। ➡️  सिंधु सभ्यता को प्रागैतिहासिक या कांस्य युग की श्रेणी में रखा जाता है। ➡️  इस सभ्यता …

आइये ” सिंधु घाटी की सभ्यता ” के बारे में कुछ रोचक तथ्यों को जानते हैं। Read More »