रासायनिक समीकरण क्या है ? उदाहरण सहित समझाइये।

रासायनिक समीकरण –

जब भी कोई रासायनिक अभिक्रिया होती है तो उस अभिक्रिया का विवरण वाक्यों के रूप में लिखना बहुत लम्बा हो जाता है , इसलिए उस अभिक्रिया को शब्द-समीकरण के रूप में लिखा जाता है जिसे रासायनिक समीकरण कहते हैं।

जैसे – जब ऑक्सीजन की उपस्थिति में मैग्निसियम रिबन को जलाया जाता है तब यह मैग्निसियम ऑक्साइड में परिवर्तित हो जाता है।

         मैग्निसियम + ऑक्सीजन ⇾ मैग्निसियम ऑक्साइड 

अभिकारक – 

जो पदार्थ या तत्व रासायनिक अभिक्रिया में भाग लेता है उसे ”अभिकारक” कहते हैं। उदाहरण के लिए मैग्निसियम तथा ऑक्सीजन उपरोक्त अभिक्रिया में अभिकारक हैं।

उत्पाद –

रासायनिक अभिक्रिया के उपरांत प्राप्त पदार्थ या तत्व ”उत्पाद” कहलाता है। जैसे उपरोक्त अभिक्रिया में मैग्निसियम ऑक्साइड उत्पाद है।

 

रासायनिक समीकरण दो प्रकार से लिखा जाता है –

 1. शब्द-समीकरण के रूप में लिखना – जब समीकरण में तत्वों या यौगिकों के नाम शब्दों के रूप में लिखा जाता है तो उस रासायनिक समीकरण के रूप को शब्द-समीकरण कहते हैं। जैसे –

ज़िंक + सल्फुरिक अम्ल ⇾ ज़िंक सल्फेट + हाइड्रोजन 

 

 2. रासायनिक सूत्र के रूप में लिखना – समीकरण में जब अभिकारक तथा उत्पादों को उसके रासायनिक सूत्र के रूप में लिखा जाता है तो उस रसायनिक समीकरण के रूप को सूत्र-समीकरण कहते हैं।

  

Zn + H2SO4 ZnSO4 + H2

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *