प्रमुख विटामिन और उनके कमी कमी से होने वाले रोग

विटामिन रोग स्त्रोत रासायनिक नाम और अणु सूत्र
विटामिन  A या A1 रतौंधी, संक्रमण के प्रति प्रतिरोध काम हो जाना मछली का यकृत, मांस, अंडे, दूध, मक्खन, पालक, पपीता, गाजर इत्यादि। रेटिनॉल या जीरोफ्थॉल

C20H30O

विटामिन  B1 बेरी-बेरी चावल की छीलन, यीस्ट, गेहूं के छिलके अंडे आदि। थायमीन या ऐन्यूरिन

C12H18N4Cl2OS

विटामिन  B2

किलोसिस 

चावल की छीलन, यीस्ट, गेहूं के छिलके अंडे, दूध, पनीर, मांस, हरी सब्जियाँ आदि। रिबोफ्लेविन या लैक्टोफ्लेविन

C17H20N4O6

विटामिन  B3 चर्म रोग, बालों का सफ़ेद होना और जनन सम्बन्धी रोग जंतुओं के यकृत और गुर्दे, यीस्ट तथा लगभग सभी खाद्य पदार्थ। पैन्टोथीनिक अम्ल

C9H17O5N

विटामिन   B6 रक्तक्षीणता, चर्म रोग,पेशीय रोग यीस्ट, चावल की चोकर, मक्का, गेहूँ, तथा अंडे, मांस, मछली का यकृत, दूध, व तजा सब्जियाँ। पिरिडॉक्सिन या ऐडरमिन

C8H11O3N

विटामिन   B12 रक्तक्षीणता, धीमी वृद्धि मछली और जंतुओं के यकृत, अंडे, मांस, दूध आदि। सायनोकोबालामिन

C63H88CoN14O14P

विटामिन  C स्कर्वी, घावों को देरी से भरना, मसूड़ों से खून आना संतरे, नींबू, मौसम्मी, पत्ता-गोभी, टमाटर, सेम की फली, हरी सब्जियां, दूध, यकृत आदि। ऐस्कॉर्बिक अम्ल

C6H8O6

विटामिन  D रिकेट्स, अस्थि भृदुता, सूखा रोग मछलियों के यकृत तेल, मांस, अंडे, मक्खन आदि।  त्वचा सूर्य के प्रकाश की उपस्थिति में विटामिन D का निर्माण करता है। अर्गोकैल्सिफैरॉल या कैल्सिफैरॉल

C28H44O

विटामिन  E नपुंसकता या बंध्यता गेहूँ के अंकुर का तेल, बिनौले का तेल, सूर्यमुखी तेल, अंडे आदि। टेकॉफेरॉल

C29H50O2

विटामिन  K (K और K1) रक्त के थक्का बनने में देरी पालक, पत्ता-गोभी, गाजर आदि। फाइलोक्विनॉन  ( विटामिन K1)

C31H46O2

विटामिन  H चर्म रोग, बाल झड़ना, लकवा होना यीस्ट, अंडे, यकृत, दूध, हरी सब्जियाँ, गेहूँ, मूंगफली आदि। बायोटिन

C10H16N2O3S

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *